Sunday, October 28, 2018

Essay on Cat in Hindi बिल्ली पर निबंध

Essay on Cat in Hindi बिल्ली पर निबंध


बिल्ली पूरे संसार भर में पाया जाने वाला एक पालतू जानवर होता है जिसका रंग सफेद काला जा फिर भूरे रंग का होता है इसकी आंखें बड़ी ही चमकीली होती है जिस कारण यह रात को भी देख सकती है।
इस जानवर के पंजे बड़े ही तेज किस्म के होते हैं इसलिए जी किसी भी चीज पर बड़ी ही सरलता से अपनी पकड़ को मजबूत कर लेती है इसकी एक लंबी पूंछ होती है जो इसका बैलेंस बनाए रखने में इसकी सहायता करती है इसकी पूंछ पर भी बाल उगे होते हैं। इसकी आंखों का ज्यादातर रंग भूरे रंग का होता है जो के बड़ी ही चमकदार होती है।

Essay on Cat in Hindi बिल्ली पर निबंध - 1

बिल्ली के दो कान होते हैं जो हल्की सी आहट को भी बड़ी ही सरलता से सुन लेती हैं क्योंकि इसके सुनने की क्षमता कुत्ते से भी तेज मानी जाती है इसलिए हल्की से हल्की आवाज भी इन्हें सुनाई दे देती है।

इसके पूरे शरीर पर रेशमी बाल होते हैं जो के छोटे छोटे होते हैं जो इस प्राणी को तेज ठंड या तपती धूप से बचाए रखते हैं घने बाल पूरे शरीर पर होते हैं बिल्ली ज्यादातर दूध जा रोटी खाना पसंद करती है किंतु इसका पसंदीदा भोजन हो चुका होता है इसलिए यह एक सर्वाहारी पशु होता है चूहा इसे देखते ही अपनी बिल में छुप जाता है।
बिल्ली संसार के सभी देशों में पाई जाती है किंतु भारत देश में इसे बहुत कम पालतू बनाया जाता है इसे देखते ही इसे भगा दिया जाता है जबकि अमेरिका में बिल्लियों को पालने का रिवाज है वहां पर ज्यादातर बिल्लियों को पालतू पशु के रूप में रखा जाता है बिल्ली को तेंदुआ या बाघ प्रजाति का जानवर माना जाता है हमारे देश में इनकी बहुत सारी नस्लें पाई जाती है जो अपने खान पीन या रंग और व्यवहार के मामले में एक दूसरे से अलग होती है।

बिल्ली का शरीर छोटे आकार का होता है जो तकरीर बाग जैसा ही दिखाई देता है परंतु इसका आकार बाग से काफी छोटा होता है जो एक बुद्धिमान पशुओं की श्रेणी में आता है क्योंकि यह मनुष्य के हावभाव को बड़ी सरलता से समझ लेता है। जितना आकार कुत्ते के बच्चे का होता है उतना ही बिल्ली का आकार होता है इनका रंग ज्यादातर भूरे रंग का होता है इनकी दूज्म कदर आंखें रात के समय भी इसे दिन जैसा ही दिखाई देता है
इस प्राणी को रात्रि के समय भी दिखाई देता है इसलिए यह देने की बजाय रात्रि के समय ज्यादा बाहर निकलती है दिन का ज्यादातर समय तो जो सोने में ही बता देती है क्योंकि इसे आराम करना बेहद पसंद होता है और दिन के समय इसे भोजन करने में भी तकलीफ होती है क्योंकि दिन के समय इसे बहुत कम भोजन मिलता है और रात होती ही यह चुकानी हो जाती है और अपने खाने की तलाश में इधर-उधर निकल जाती है
इस पशु को दूध पीना बहुत अच्छा लगता है इसलिए इसे घरों में चोरी छुपे घुसकर दूध देखा जा सकता है एक बिल्ली के बच्चे के मुंह में लगभग 26 दांत हो सकते हैं किंतु एक वयस्क बिल्ली 30 दांत होते हैं। इनके दांत भी बड़े ही तेज और नुकीले होते हैं।
बिल्ली का जीवनकाल आमतौर पर 10 वर्षों से लेकर 16 वर्षों तक का माना गया है और बिल्ली अपनी गर्भकाल के दौरान 5 या 7 बच्चों को जन्म देती है। दिल्ली 110 अभाव का जानवर होता है किंतु जो बिल्लियां जंगलों में रहती है वह अशांत स्वभाव की होती इसके अलावा जंगलों में रहने वाली बिल्लियों का आकार भी थोड़ा बड़ा होता है जो बिंदिया घरेलू होती है उनसे है।

जो बिलिया जंगलों में पाई जाती है वह आमतौर पर छोटे छोटे पक्षियों का शिकार करके अपना पेट भर्ती है परंतु जो भी दिया घरों में पानी जाती है वह दूध या रोटी खाकर अपना पेट भरते हैं

बिल्ली के पूरे शरीर पर छोटे-छोटे रेशमी बाल होते हैं इनका शरीर मांसपेशियों से गिरा होता है इनकी मांसपेशियां इतनी लचीली होती है कि यदि जी किसी ऊंची जाके सी भी छलांग लगा दे तो इन्हें कभी भी चोट नहीं लगती इसके अलावा इनके कूदने की क्षमता भी काफी दूर की होती है यह काफी ऊंचाई से छलांग लगा सकती है इनके चार पैर होते हैं जिनके पंजों की पकड़ काफी मजबूत होती है जिनकी मदद से यह किसी भी चीज पर अपनी मजबूत पकड़ बना सकती हैं।

Essay on Cat in Hindi बिल्ली पर निबंध - 2
बिल्ली की सूंघने की क्षमता काफी तीव्र मानी गई है जो किसी भी चीज को दूर से ही सुख लेती है इनकी एक लंबी पूंछ होती है जानू जिस कारण यह ऊंची से ऊंची जगह से भी कूद लेती है और इनका बैलेंस भी नहीं बिगड़ता। बिल्ली अक्सर दबे पांव आती है और अपना शिकार कर जाती हैं इनके पैरों की आवाज भी नहीं आती जब भी चलती है अक्सर इन्हें म्याऊं म्याऊं की आवाज निकालते हुए सुना जा सकता है।
पूरे संसार भर में बिल्लियों की बहुत सारी नस्लें पाई जाती है अब तक तकरीबन 40 प्रजातियां खोजी जा चुकी हैं पूरे वर्ल्ड में 40 करोड़ से भी ज्यादा बिल्लियां पाई जाती है बिल्लियों का शिकार करके उनकी खाल से कोट बनाए जाते हैं।

बिल्ली की सुनने की शक्ति भी काफी तीव्र होती है इंसान से यह कहीं ज्यादा इसी आवाज को सुन सकती है एक बिल्ली लगभग 35 से लेकर 45 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ सकती है जब यह स्वीकार करती है तो इसके दौड़ने की गति इससे भी ज्यादा तेज हो सकती है प्राचीन समय में माना जाता है कि जो लोग मिश्र के थे वह बिल्लियों की पूजा अर्चना किया करते थे वह बिल्लियों को पाना करते थे और उनकी देखभाल भी करते थे वह बिल्लियों को सबसे ऊंचा दर्जा दिया करते थे।
बिल्ली एक ऐसा प्राणी होता है जो 20 मीटर से भी अधिक की ऊंचाई तक कूदने की क्षमता रखता है और इसे कभी भी चोट नहीं लगती क्योंकि इसका शरीर ही कुछ ऐसा होता है इसके पूरे शरीर में लचीली मांसपेशियां मौजूद होती है जो इसे चोट से बचाती है एक बिल्ली अपने पूरे शरीर का तकरीबन 5 गुना अधिक छलांग लगा सकती है इसका शरीर हल्का और लचीला होता है।
बिल्ली कि मुझे होती है जिनकी मूंछों पर तकरीबन 12 बाल होते हैं यह कैसा जानवर होता है जिनकी नाक पर मानव की तरह ही फिंगरप्रिंट मौजूद होते हैं जिस कारण बिल्लियां की अलग अलग पहचान की जा सकती है।
भारत में 72 कंपनियां पाली जाती है इसके अलावा भारत में बिल्लियों का कि रास्ता काट जाने पर अशुभ माना जाता है। जबकि जापान में बिल्लियों को शुभ माना जाता है भारत में यदि कोई किसी काम के लिए निकलता है और बिल्ली उसका रास्ता काट जाती है तो वह उसी वक्त घर के लिए नोट जाता है क्योंकि इसे बुरा समझा जाता है और कुछ वक्त रुक कर फिर अपने काम के लिए निकलना होता है ऐसी धारणा भारत के लोगों में मौजूद है।

Essay on Cat in Hindi बिल्ली पर निबंध - 3

बिल्ली एक आराम प्रिय जानवर होता है जो 1 दिन में 10 घंटे तक होती रहती है किंतु जब इसे भूख लगती है तो जहर खाने की तलाश में दिन में भी इधर-उधर भटकती हुई देखी जा सकती है
बिल्ली चंचल स्वभाव का एक नन्हा सा जानवर होता है जिसके छोटे छोटे पैर और एक सुंदर सी प्यारी पूंछ होती है जो इसका बैलेंस बनाए रखने में इसकी मदद करती है इसके अलावा इस के पंजे भी काफी मजबूत होते हैं और इनके सुनने की क्षमता बहुत तेज मानी जाती है बिल्ली का पूरा शरीर ही बड़ा ही सक्षम होता है इसके देखने की क्षमता भी काफी तीव्र होती है रात के समय तो यह दिन की तरह ही देख सकती है इसका शरीर देखने में बाघ जानवर की तरह ही दिखाई देता है क्योंकि जो तेंदुआ बाघ शेर प्रजाति का ही प्रश्न होता है इनका डीएनए आपस में एक दूसरे से मिलता जुलता है इसलिए इसे बाघ प्रजाति का जानवर माना जाता है इसका पूरा शरीर मुलायम और घने बालों से ढका होता है आंखों का ज्यादातर रंग भूरे रंग का होता है।

बिल्लियां पूरे संसार भर में देखने को मिल जाती है किंतु सबसे ज्यादा बिली अमेरिका में पढ़ी जाती है उसे वहां पर पालतू जानवर के रूप में पढ़ा जाता है और उनकी देखभाल भी की जाती है किंतु भारत में बिल्ली को अशुभ माना जाता है दूर से देखते ही दूर भगा दिया जाता है इसके उल्ट देखा जाए अमेरिका में यह सबसे लोकप्रिय जानवरों में से एक है।

बिल्ली के दांत बड़े ही नुकीले होते हैं किसी भी चीज की चीर फाड़ बड़ी आसानी से कर लेती है इसका प्रमुख भोजन चूहा होता है जिसे जी अपने तेज और नुकीले पंजों से पकड़ कर खा जाती है बिल्लियों को भी दूसरे पशुओं की तरह पालतू जानवर के रूप में पढ़ा जा सकता है ज्यादातर लोग अपना शौक पूरा करने के लिए बिल्लियों को पालते हैं।
एक बिल्ली का जीवनकाल तकरीबन 15 वर्षों तक होता है जबकि इनकी कुछ प्रजातियों का जीवनकाल इससे ज्यादा जाकर भी हो सकता है बिल्ली की बहुत सारी प्रजातियां अपने रंग व्यवहार और खान पीर के मामले में एक दूसरे से अलग होती है बिल्ली संसार की हर जगह में पाई जाती है।

एक बिल्ली का गर्भ काल समय क्यों 64 दिनों से लेकर 67 दिनों के बीच होता है बिल्ली 4 से लेकर 6 बच्चों को जन्म देती है जन्म के समय समय बच्चों को दिखाई नहीं देता किंतु धीरे-धीरे उन्हें दिखाई देने लगता है जन्म के समय बच्चों की आंखों का रंग पूरी तरह नीला होता है किंतु समय के साथ-साथ जय भूरे रंग में बदलना शुरू हो जाता है यह कसर बाहरी जानवरों की श्रेणी में आने वाला है यह मांस और रोटी दोनों खा सकती है

Cat essay in Hindi बिल्ली पर निबंध - 4
Essay on Cat in Hindi बिल्ली पर निबंध

बिल्लियां जंगली होने के साथ-साथ पालतू भी होती है कई लोगों को तो इसका इतना क्रेज होता है कि वह इन्हें ऊंचे से ऊंचे दाम में खरीदकर पालते हैं दुनिया की सबसे महंगी बिल्लियां में अफ्रीकी शबाना बिल्ली की कीमत लगभग 22 हजार डॉलर लगभग 14 लाख रुपए तक होती थी कई इन पालतू बिल्लियों के साथ खेलते हैं और सोशल मीडिया पर इनकी फोटो भी पोस्ट करते हैं।

क्या तुम जानते हो कि दुनिया भर में पालतू बिल्लियों के अलावा जंगली बिल्लियां भी मिलती है जो शेर, बाघ, तेंदुआ और चीता जैसे बिग कैट फैमिली में आती है। यह जंगली बिल्लियां डोमेस्टिक बिल्लियों से काफी बड़ी और खूंखार होती है लेकिन हमारे संरक्षण में रहने वाली छोटी कद काठी की डोमेस्टिक बिल्लियों की ढाई सौ से ज्यादा नस्लें पाई जाती है जो कई खूबियों वाली होती है और हमारे काफी काम आती है। असल में यह पालतू बिल्लियां हजारों साल पहले जंगली बिल्लियां ही थी जिन्हें मनुष्य ने अपने फायदे के लिए पालतू बना लिया मानव सभ्यता के विकास के साथ-साथ चूहो और दूसरे छोटे जानवरों से खेती और घर के समान को बचाने के लिए यह कदम उठाया गया था। 
essay on cat in Hindi
ऐसा माना जाता है कि सबसे पहले अफ्रीकी बिल्ली को पालतू बनाया गया था तब से इनकी खूबियों के कारण पूरी दुनिया में बिल्लियों को पालतू बनाने का चलन शुरू हो गया आज दुनिया में सबसे ज्यादा बिल्लियां उत्तरी अमेरिका में पाली जाती है जहां तकरीबन 75 मिलियन बिल्लियां है।

मददगार होने के अलावा बिल्लियां हमारी अच्छी मित्र भी साबित हुई है वह हमारे मूड को समझती है अपनी क्यूटनेस और शरारतों से हमारा खराब मूड ठीक कर सकती है। यही नहीं दुनिया भर में कई ऐसी मिसालें मिल जाती है जिससे बिल्ली ने बुरे समय में अपने मालिक की सहायता की और जीवनदान दिया।
essay on cat in Hindi

Domestic Cat - पालतू बिल्ली ज्यादातर सफेद, काले, भूरे जैसे कई रंगों की धारीदार फरवाली होती है हमारे देश में काले रंग की बिल्ली को पसंद नहीं किया जाता जबकि जापान ऑस्ट्रेलिया और ब्रिटेन में काले रंग की बिल्ली को भाग्यशाली माना जाता है उसे अच्छा माना जाता है उनके शरीर पर फर की डबल पर तो होती है जो ठंड जा गीला होने से बचाती है बाहरी परत को गाड़ बाल कहा जाता है जो काफी लंबे और मोटे होते हैं और अंदरूनी परत पर बहुत नरम होते हैं।

जन्म के समय बिल्लियों की आंखें नीले रंग की होती है जिनका रंग बड़े होने पर बदल जाता है इनकी आईसाइट बहुत तेज होती है जहां तक के रात के अंधेरे में भी वह दूर तक आसानी से देख लेती है जैसे तुम्हारे दूध के दांत टूटते हैं और परमानेंट दांत आते हैं वैसे ही बिल्लियों के भी दूध के दांत 6 महीने बाद गिर जाते हैं और 30 परमानेंट दांत आते हैं उनके दांत बहुत नुकीले होते हैं जिससे वह  अपना शिकार पकड़ती है लेकिन जे बिल्ली अपना भोजन चबाती नहीं निगलती है खाने के मामले में जे बिल्लियां बहुत नखरीली होती है यह भूखी रह लेंगी किंतु खायेंगी केवल अपना पसंदीदा खाना ही बिल्लियों के लिए कहा जाता है कि उन्हें दूध पीना बहुत पसंद है और वह चोरी छिपे घर में घुसकर दूध पी जाती है लेकिन वैज्ञानिकों के मुताबिक दूध पीना बिल्ली के लिए हानिकारक होता है।

बिल्लियां दिन के समय लगभग 16 घंटे सोती है बाकी बचे समय में यह एक तिहाई जानी लगभग 3 घंटे खुद को साफ करने में बताती है वैसे पानी से वह  बहुत डरती है लेकिन सफाई अपनी जीभ से चाट चाट कर करती है हालांकि वैन नस्ल की बिल्ली एक अकेली ऐसी बिल्ली है जिसे पानी में रहना बहुत पसंद है इसके शरीर में ऐसी कोटिंग होती है कि वह बिल्कुल भीग नहीं सकती।

छलांग लगाने में बिल्लियां माहिर होती है एक बार में तकरीबन वे अपनी पूंछ की लंबाई से 7 गुना ज्यादा लंबी छलांग लगा सकती है। वजन कम होने पर शरीर लचीला होने की वजह से गिरते हुए अपने शरीर को पैराशूट की तरह बना लेती है। यह 60 मील प्रति घंटा की रफ्तार से नीचे गिरती है और चारों पैरों के सहारे जमीन पर अक्सर सुरक्षित लैंड कर जाती है। बिल्ली का सबसे प्रिय भोजन चूहे होते हैं आज भी न्यूजीलैंड और मॉस्को रूस की स्टेट हरमिटेज म्यूजियम में चूहों से छुटकारा पाने के लिए बिल्लियां रखी जाती है।

चूहे बिल्ली की इसी लड़ाई को ध्यान में रखकर लोकप्रिय कार्टून शो टॉम एंड जैरी बना जो तुम्हारा भी प्रिय होगा। 24 साल तक जिंदा रही गलेनटरेट बिल्ली टासर को 28, 899 चूहों का शिकार करने के लिए गिनीज रिकॉर्ड में शामिल किया गया था। दुनिया की सबसे छोटी बिल्ली टिंकर टॉय हैं जो मात्र 7 सेंटीमीटर लंबी है।